Posted on

Fear not death; but conquer it

  • मृत्योर्बिभेषि किं मूढ भीतं मुञ्चति किं यमः।
    अजातं नैव गृह्णाति कुरु यत्नमजन्मनि॥
  • mṛtyorbibheṣi kiṁ mūḍha bhītaṁ muñcati kiṁ yamaḥ|
    ajātaṁ naiva gṛhṇāti kuru yatnamajanmani||
  • Fool, of what use is fearing death?
    Does the God of death spare the fearful?
    Endeavor instead to never be born again, for death does not claim the unborn!
  • अरे मूर्ख मनुष्य ! मृत्यु से क्यों भयभीत होते हो ? क्या भयभीत होने से यमराज तुम्हें छोड देगा अर्थात क्या तुम्हारी मृत्यु नहीं होगी ? वह यमराज तो अजन्म प्राणी का कभी ग्रहण नहीं करता अतः उसके लिए प्रयत्न करो। कहने का अभिप्राय है जिसका जन्म हुआ है उसकी मृत्यु निश्चित है। मोक्ष प्राप्त करने से आत्मा जन्म-मरण के चक्र से मुक्ति प्राप्त करता है।
  • – Subhāṣita-ratna-bhāṇḍāgāraḥ

42 Views

Leave a Reply

You must be logged in to post a comment.